Maut Shayari in Hindi | मरना और जीना जीवन के दो पहलू है।

Maut Shayari in Hindi

Maut Shayari in Hindi
Maut Shayari in Hindi

मरना और जीना जीवन के दो पहलू हैं, क्योंकि मृत्यु व्यक्ति से पूछ कर नहीं आती। और न चाहते हुए भी इंसान को जीना पड़ता है।

Marna Or Jeena Zindgi Ki Do Pahlu Hai, Kio Ki Kabi Vi Ensaan ko Mout Puch Kar Nahi Ati Or Na Chahte Hue Ve Ensaan ko Jeena Padta Hai,

Related Posts

Subscribe Our Newsletter